दावा: कमलनाथ ने कहा, दिग्विजय सिंह के झूठे भरोसे के कारण गिरी सरकार, क्या है सच्चाई - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Sunday, May 3, 2020

दावा: कमलनाथ ने कहा, दिग्विजय सिंह के झूठे भरोसे के कारण गिरी सरकार, क्या है सच्चाई

भोपाल. मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ का एक बयान सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। एक चैनल को दिए इंटरव्यू में दि एगए बयान के बाद सियासी गलियारों में एक बार फिर से दिग्विजय सिंह की चर्चा शुरू हो गई है। दावा किया जा रहा है कि कमलनाथ ने एक चैनल के इंटरव्यू में कहा है कि दिग्विजय सिंह के झूठे आश्वसन के कारण मध्यप्रदेश में उनकी सरकार गिर गई।
क्या है दावा:-
दावा किया जा रहा है कि कमलनाथ ने एक इंटरव्यू में दावा किया है कि उन्हें पता था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया बगावत कर भाजपा का दामन थामेंगे, लेकिन इसके बाद भी उनकी सरकार गिर गई। क्योंकि दिग्विजय सिंह ने उन्हें दिलाया था कि सिंधिया के साथ विधायक नहीं जाएंगे। लोकसभा चुनाव के सिंधिया भाजपा के संपर्क में आ गए थे और इसकी उन्हें जानकारी थी। लोकसभा चुनाव में एक लाख से अधिक वोट से हार पचा नहीं और उनकी भाजपा से नजदीकियां बढ़ती गईं।
सही अनुमान नही लगा पाए दिग्विजय:-
कमलनाथ के बयान के आधार पर यह दावा किया जा रहा है कि, दिग्विजय सिंह ने भरोसा दिलाया था कि सिंधिया के साथ पार्टी के विधायक नहीं जाएंगे। कमलनाथ ने कहा कि दिग्विजय सिंह ने ऐसा किसी उद्देश्य से नहीं किया बल्कि वो सही अनुमान नहीं लगा पाए।
क्या है इस दावे की सच्चाई:-
पूर्व सीएम कमलनाथ ने 'पत्रिका' से कहा कि एक चैनल के पत्रकार अनौपचारिक मुलाकात के लिए उनके निवास पर आए थे। सियासी घटनाक्रम पर व विभिन्न मुद्दों पर अनौपचारिक चर्चा हुई। सरकार गिरने के मुद्दे पर बात आने पर मैंने कहा कि मुझे और दिग्विजय सिंह को कुछ विधायकों ने विश्वास दिया था कि वे वापस आ जाएंगे। उन पर हमने भरोसा किया और हम अपनी सरकार नहीं बचा पाए। कमलनाथ ने कहा- मैंने यह नहीं कहा कि दिग्विजय ने झूठा विश्वास दिया जिससे सरकार नहीं बची।
क्या कहा दिग्विजय सिंह ने:-
दिग्विजय सिंह ने कहा कि जब मेरी जानकारी में यह बात आई कि कमलनाथ ने किसी इंटरव्यू में यह बात कही है तो मैंने उनसे फोन में चर्चा की। इस पर कमलनाथ ने कहा कि मैंने ऐसा कुछ नहीं कहा। हालांकि इस दौरान दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के संबंध में ज्यादा बात नहीं कि उन्होंने कहा कि इसका जवाब कमलनाथ जी देंगे।