भांजे के प्रेम में दीवानी मामी लॉक डाउन तोड़कर मिलने पहुंची फिर दोनों ने की खुदकुशी की कोशिश - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Monday, May 18, 2020

भांजे के प्रेम में दीवानी मामी लॉक डाउन तोड़कर मिलने पहुंची फिर दोनों ने की खुदकुशी की कोशिश

ग्वालियर/भिंड। प्रेम प्रसंग के बीच रुकावट बने परिजन  तो प्रेमी प्रेमिका ने आत्म हत्या करने की कोशिश की। महिला ने  अपना गला काटा तो प्रेमी ने भी पेट काटने का प्रयास किया। यह सब देखकर युवक के भाई घबरा गए। घटना भिण्ड शहर की है। प्रेमिका ग्वालियर से लॉक डाउन तोड़कर अपने प्रेमी से मिलने पहुंची थी। 
मिली जानकारी के अनुसार  महिला सुनीता पति हरि सिंह जाटव उम्र 27 वर्ष ने आज अपना गला काट कर अपनी जीवन लीला समाप्त करने के उद्देश्य से गला काट लिया। पास ही खड़ा युबक महिला के दूर के रिस्ते में भांजा लगता है रामू पिता मुंशी लाल जाटव उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम चरथर बुलाकी पुरा का रहने बाला है। जिसने बताया आज महिला सुनीता पति हरि सिंह जाटव निवासी बिरला नगर जती की लाइन की रहने बाली है। जिसका प्रेम प्रसंग करीव 6 साल से रामू धारिया के साथ चल रहा था महिला के पास डेढ़ साल का उसका पुत्र राज भी है।जो कि रामु की संतान बताई जा रही है। रामू महिला सुनीता का दूर के रिस्ते में भांजा लगता है। सुबह 10 बजे से महिला बिना बताए ग्वालियर से 13 तारिक को पैदल मालनपुर तक आ गई थी जिसकी सूचना सुनीता ने रामू को फोन पर दी कि उसके साथ मार पीट हरि सिंह ने कर घर से निकाल दिया है जिससे बह अब भिंड आ रही है। अगर रामू तुम मुझे अपने साथ नही रखोगे तो में बच्चे सहित कही आत्म हत्या कर लुंगी इस बात को रामू ने महिला को समझाया ओर भिंड से मालनपुर महिला को मोटर साईकिल से लेकर भिंड आ गया रामू ने अपने मित्र से बात कर मकान किराये से ले लिया मित्र ने नाथू राम राठौर का मकान बरुआ नगर लहार रोड पर किराये से कमरा दिलवा दिया।
महिला को कमरे पर छोड़ कर रामू अपने घर चला गया 14 मई  को रामू ने महिला और उसके बच्चे को खाने पीने के बर्तन साथ ही कुछ सामान भी खरीदवा कर चला गया । रामू के पिता मुंशी लाल के पास हरि सिंह का फोन आया उसने बताया सुनीता बच्चे के साथ 13 मई से घर पर नही लौटी है ।वह   भिण्ड तो नही आई सुनीता के प्रेम प्रसंग के बारे में परिवार के सभी लोगो को पता था इस लिए रामू के पिता मुंशी ने जब रामू से सुनीता की जानकारी मांगनी चाही तो रामू ने सुनीता के बारे में बताने से इनकार कर दिया और रामू अपनी रोज की तरह कार्य पर चला गया।
सुबह रामू के पास महिला सुनीता का फोन आया जिसने खाना बनाने के लिए सिलेंडर को भरवाने की कहा रामू सिलेंडर भरवा कर बाजार से लौट रहा था इधर रामू पर नजर रख रहे रामू के भाइयो ने रामू को सिलेंडर भरवाने की सूचना पिता को दी पिता ने प्रदीप वीर सिंह रामू के भाइयो को पीछा करने की बात कहकर फोन काट दिया ।रामू जब सिलेंडर भरबा कर बरुआ नगर किराये के मकान पर पहुचा तो पीछे से उसके भाई , प्रदीप  और वीर सिंह आ गए दोनों भाइयों को देख रामू और सुनीता के डर गए।जब भाइयो ने रामू से सुनीता को घर बापिस भेजे  जाने की बात कही तो सुनीता ने घर जाने और रामू का साथ न छोड़ने की बात कही। इस पर  प्रदीप ने 100 डायल को फोन कर सूचना दे दी जिससे महिला का रामू से अलग होना की आशंका में एक जुनून सा सवार हो गया। महिला ने पास में रखे सव्जी काटने बाले चाकू से अपना गला स्वयं काट लिया रामू ने महिला को गला काटते देखा तो महिला के हाथ से चाकू छीनने का प्रयास किया जिससे रामू का दाहिना हाथ उंगली कट गई। चाकू छीन रामू ने भी अपनी आत्म हत्या करने की कोशिश करते हुए पेट और गले पर बार किये। रामू के भी चाकू के कट के निशान है। दोनों भाइयों ने रामू के हाथ से चाकू छीन कर पुलिस के मौका स्थल पर पहुचते ही दोनों लोगो को जिला अस्पताल भर्ती कराया है ।जहां महिला और रामू का इलाज चल रहा है ।
बताया गया  कि  रामू भी शादी शुदा है ।लेकिन उसकी जबरन शादी परिवार के लोगो ने करा दी है ।जिससे रामू अपनी पत्नी के साथ नही रहना चाहता रामू ओर सुनीता दोनों का प्रेम प्रसंग काफी पुराना होने के कारण अब एक दूूूसरे केे साथ रहना चाहते है।