दोस्ती बनी मिसाल मुस्लिम दोस्त ने आखिर तक नही छोड़ा साथ, कोरोना संदिग्ध अमृत की मौत - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Saturday, May 16, 2020

दोस्ती बनी मिसाल मुस्लिम दोस्त ने आखिर तक नही छोड़ा साथ, कोरोना संदिग्ध अमृत की मौत

शिवपुरी। कहते हैं कि दुनिया में सबसे बडा धन मित्रता होता हैं, वैसे मित्रता की कोई परिभाषा नही होती हैं,लेकिन शिवपुरी में हुई कोरोना संदिग्ध अमृत की मौत एक मिशाल बन कर उभरी हैं। वर्तमान समय में जहां हिन्दू मुस्लिम की नफरत भरी राजनीति भी जोर पकड रही हैं तो इस मित्रता की मिशाल में इस नफरत की कोई जगह नही रही।
कोरोना की इस भीषण महामारी में कोई भी परिवार का सदस्य अपने पॉजिटीव परिवार के सदस्य के पास जाने से डर रहा हैं। जो पडौसी बचपन में संग साथ खेले हैं अब वही बाहार से लौट आए तो कोरोना का खौफ आ जाता हैं। ऐसे खौफ भरे महौल में एक मुस्लिम दोस्त ने अपने हिन्दू दोस्त के प्रति निभाई अपनी जिम्मेदारी।
जहां इस कोरोना काल में कोरोना से लडने के लिए सोशल डिस्टेंस के नियम का आवश्यक रूप से पालन करना है, लेकिन म ने अपने साथी का साथ उसके अंतिम समय तक नहीं छोडा वह अपने अति गंभीर बीमार दोस्त अमृत का सर अपनी गोद में जब तक लेकर बैठा रहा है जब तक उसे चिकित्सीय सहायता नहीं मिल गई।
जैसा कि विदित था कि मृतक अमृत अपने कई साथियो सहित महाराष्ट्र से यूपी जाने के लिए निकला था जैसे ही उसने शिवपुरी की सीमा में प्रवेश किया तो उसकी स्वास्थ्य खराब होने लगा उसके साथ चले साथियों ने उसे पडोरा चौक पर छोड दिया किंतु उसे दोस्त मोहम्मद कय्यूम ने मित्रता की परिभाषा को सार्थक करते हुए उसे मरने के लिए अकेला नहीं छोडा।
बल्कि वह बीमार अमृत की देखभाल करता रहा और मदद के लिए लोगों से गुहार लगाता रहा। अस्पताल में भी वह उसके साथ रहा। स्वास्थय विभाग ने ऐतियात के तौर पर अमृत के सैंपल लिए और उसके दौस्त मौहम्मद कयूम का भी। बताया जा रहा हैं कि कल शाम से ही अमृत की तबीयत अधिक खराब होने लगी तो उसे वैलिटिलेटर पर रख दिया गया।
देर रात अमृत की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि अमृत की मौत के बाद उसका दोस्त रात भर रोता रहा स्थानीय नागरिक ने उसे खाने पीने का समान दिया, लेकिन शोकाकुल मौहम्मद कयूम ने कुछ भी नही खाया पीया नही।  खबर लिखे जाने तक मृतक अमृत की जांच रिपोर्ट नहीं आई है लेकिन ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि मृतक अमृत में कोरोना के पूरे लक्षण थे।
अगर मृत अमृत को कोरोना पॉजिटिव होता है तो संभावना बन सकती है कि मोहम्मद कय्यूम भी कोरोना पॉजिटिव हो सकता है। अगर ऐसा होता है तो भारत में यह पहला  केस होगा जो दोस्ती में कोरोना पॉजिटिव होगा।