शिवपुरी जिलेभर की आज की विशेष खबरें जो आपके लिये है खास दिनांक 29-मई-2020 - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Friday, May 29, 2020

शिवपुरी जिलेभर की आज की विशेष खबरें जो आपके लिये है खास दिनांक 29-मई-2020

----------------------/1/----------------------
माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने शेष बची परीक्षाओं का परीक्षा कार्यक्रम जारी किया
शिवपुरी। माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा-2020 की शेष बची परीक्षाओं का परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। परीक्षा 9 जून से 16 जून तक संचालित की जायेगी। सचिव माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने सभी प्राचार्यों को निर्देशित किया है कि प्रत्येक परीक्षार्थी को परीक्षा की तिथि और समय की जानकारी देना सुनिश्चित करें। परीक्षा कार्यक्रम मण्डल की वेबसाइट www.mpbse.nic.in पर भी देखा जा सकता है।
परीक्षा का कार्यक्रम:-
हायर सेकेण्डरी एवं हा.से. व्यावसायिक पाठ्यक्रम परीक्षा इस प्रकार है- मंगलवार 9 जून को रसायन विज्ञान एवं भूगोल, बुधवार 10 जून को बुक-कीपिंग एवं एकाउंटेंसी तथा प्रथम प्रश्न-पत्र व्होकेशनल कोर्स, गुरुवार 11 जून को जीव-विज्ञान, शुक्रवार 12 जून को व्यावसायिक अर्थशास्त्र तथा एनिमल हसबेंड्री, मिल्ड ट्रेड, पोल्ट्री फार्मिंग एवं फिशरीज, शनिवार 13 जून को राजनीति-शास्त्र, शरीर रचना क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, स्टिल लाइफ एण्ड डिजाइन एवं द्वितीय प्रश्न-पत्र व्होकेशनल कोर्स, सोमवार 15 जून को हायर मैथेमेटिक्स, विज्ञान के तत्व, भारतीय कला का इतिहास तथा तृतीय प्रश्न-पत्र वोकेशनल कोर्स, मंगलवार 16 जून को अर्थशास्त्र तथा क्रॉप प्रोडक्शन एवं हॉर्टीकल्चर विषय की परीक्षाएँ होंगी।
हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक के जिन विषयों की परीक्षाएँ आयोजित नहीं की जायेंगी उन विषयों में बॉयो टेक्नालॉजी, शारीरिक शिक्षा, नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क के विषय आई.टी, सिक्योरिटी, ब्यूटी एण्ड वेलनेस, बैंकिंग एण्ड फायनेंशियल सर्विसेस, इलेक्ट्रिकल टेक्नालॉजी, हेल्प-केयर, फिजिकल एजुकेशन एण्ड स्पोर्ट, रिटेल तथा ट्रेवल एण्ड टूरिज्म की परीक्षाएँ शामिल हैं।
दिव्यांग छात्रों के लिये परीक्षा पाठ्यक्रम:-
दृष्टिहीन, मूक-बधिर (दिव्यांग) छात्रों के लिये हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा पाठ्यक्रम की शेष परीक्षाएँ 9 जून से 15 जून तक दोपहर 2 से 5 बजे तक होंगी। मंगलवार 9 जून को हायर मेथमेटिक्स एवं भूगोल, बुधवार, 10 जून को बुक-कीपिंग एवं एकाउंटेंसी तथा क्रॉप प्रोडक्शन एवं हॉर्टीकल्चर, गुरुवार 11 जून को जीव-विज्ञान एवं अर्थशास्त्र, शुक्रवार 12 जून को व्यावसायिक अर्थशास्त्र, एनिमल हसबेंड्री मिल्क ट्रेड पोल्ट्री फार्मिंग एवं फिशरीज, शनिवार 13 जून को राजनीति-शास्त्र, स्टिल लाइफ एण्ड डिजाइन तथा शरीर रचना क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, सोमवार 15 जून को रसायन विज्ञान, विज्ञान के तत्व, भारतीय कला का इतिहास, समाज-शास्त्र, मनोविज्ञान, ड्राइंग एण्ड डिजाइनिंग तथा एनवायरमेंटल एजुकेशन एण्ड रूरल डेव्हलपमेंट, इंटरप्रेनुअरशिप की परीक्षा होगी।
हायर सेकेण्डरी, हा.से. व्या. परीक्षा के विषय दृष्टिहीन एवं मूक-बधिर (दिव्यांग) छात्रों के लिये विशिष्ट भाषा उर्दू, शारीरिक शिक्षा, बॉयो टेक्नालॉजी, कृषि मानविकी, होम साइंस (कला समूह), नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क सिक्यूरिटी की परीक्षाएँ आयोजित नहीं की जायेंगी। परीक्षाकाल में शासन द्वारा यदि कोई सार्वजनिक अथवा स्थानीय अवकाश घोषित किया जाता है तो भी परीक्षाएँ यथावत कार्यक्रमानुसार सम्पन्न होंगी। मण्डल आवश्यकता होने पर तिथि एवं समय में कभी भी बिना पूर्व सूचना के परिवर्तन कर सकता है, जिसकी सूचना विद्यार्थियों को संचार माध्यमों से दी जायेगी। हायर सेकेण्डरी परीक्षा में केवल वाणिज्य संकाय के विषयों को छोड़कर शेष विषयों में नियमित एवं स्वाध्यायी छात्रों के लिये प्रश्न-पत्र 100 अंकों का होगा किन्तु नियमित छात्रों को 100 अंक के प्राप्तांक का 80 प्रतिशत अधिभार एवं स्वाध्यायी छात्रों को 100 अंकों के प्राप्तांक ही अंकसूची में प्रदर्शित किये जायेंगे।
प्रायोगिक परीक्षा:-
स्वाध्यायी छात्रों की शेष प्रायोगिक परीक्षाएँ आवंटित परीक्षा केन्द्र में 8 जून से 16 जून के मध्य आयोजित की जायेंगी। आवश्यकता पड़ने पर अवकाश के दिनों में भी आयोजित की जा सकेगी।
सुरक्षा नियमों का होगा सख्ती से पालन:-
परीक्षा केन्द्रों पर सभी छात्रों को अपने नाक और मुँह को नकाब, कपड़े, मास्क से ढंककर रखना होगा तथा फिजिकल डिस्टेंस नियमों का सख्ती से पालन करना होगा। सभी परीक्षार्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी।

----------------------/2/----------------------
ग्रामीणों को उनके भू-खण्ड पर मिलेगा मालिकाना हक
शिवपुरी। प्रदेश में ग्रामीण बसाहट का सर्वे कर अधिकार अभिलेख तैयार कर ग्रामीण जनता को उनके भू-खण्ड पर मालिकाना हक प्रदान किया जाएगा। ग्रामीणों के हित में योजना के तहत तैयार किये गये डाटाबेस से पंचायत स्तर पर सम्पत्ति रजिस्टर भी तैयार किये जायेंगे। ग्रामीणों को यह सौगात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 24 अप्रैल को की गई ‘ग्रामीण आबादी सर्वेक्षण योजना’ की घोषणा के तहत प्राप्त होगी। भारतीय सर्वेक्षण विभाग द्वारा पंचायत एवं ग्रामीण विकास और राजस्व विभाग के माध्यम से यह कार्य किया जाएगा।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने ग्रामीण आबादी सर्वेक्षण योजना को प्रभावी रूप से लागू करने के निर्देश दिये है। भारतीय सर्वेक्षण विभाग द्वारा आगामी जून माह के प्रथम सप्ताह में हरदा एवं डिंडोरी जिले के कुछ गाँव में कार्य प्रारंभ किया जाना प्रस्तावित है। इस संबंध में जिला कलेक्टर्स को दिशा-निर्देश जारी किये जा चुके हैं। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि योजना के तहत प्रथम वर्ष में प्रदेश के 10 पॉयलेट जिलों का चयन किया गया है, शेष 43 जिलों का सर्वे द्वितीय एवं तृतीय वर्ष में क्रमबद्ध किया जाएगा। प्रथम चरण में शामिल 10 जिलों 10 हजार 553 राजस्व गाँव शामिल किये गये है। इन सभी राजस्व गाँवों में आबादी भूमि के सर्वे का कार्य तीन चरणों में किया जाएगा।
योजना का लक्ष्य:-
ग्रामीण आबादी सर्वेक्षण योजना का मुख्य लक्ष्य ग्रामीण सम्पत्तियों का अधिकार अभिलेख तैयार करना और प्रत्येक सम्पत्ति स्वामी को उसकी सम्पत्ति का स्वामित्व अभिलेख उपलब्ध करवाना है, जो उसके स्वत्व तथा स्वामित्व का प्रमाण होगा।
योजना की लागत:-
योजना को प्रभावी तरीके से लागू करने के लिये योजना की लागत का वर्षवार वर्गीकरण किया गया है। वर्ष 2020-21 में 17 करोड़ 85 लाख, वर्ष 2021-22 में 40 करोड़ 6 लाख, इस प्रकार तीन वर्षों में 97 करोड़ 97 लाख राशि व्यय होगी। इस राशि में भारत सरकार द्वारा भारतीय सर्वेक्षण विभाग को सीधे किये जाने वाला भुगतान 29 करोड 9 लाख, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा किये जाने वाले कार्य पर होने वाला व्यय 27 करोड़ 55 लाख और राजस्व विभाग द्वारा किये जाने वाले कार्यों पर होने वाला व्यय 41 करोड़ 33 लाख शामिल है।
योजना का कार्यक्षेत्र:-
आबादी सर्वे अन्तर्गत केवल उन सम्पत्ति धारकों का अधिकार अभिलेख तैयार किया जाएगा, जो मध्यप्रदेश भू-राजस्व संहिता-1959 (यथा संशोधित-2018) के लागू होने की तिथि 25 सितम्बर 2018 को आबादी भूमि पर काविज थे अथवा जिन्हें इसी तिथि के बाद विधिपूर्वक आबादी भूमि में भू-खण्ड का आवंटन किया गया हो।
संबंधित आबादी क्षेत्र के समीप यदि दखलरहित भूमि पर बसाहट है जो आबादी क्षेत्र में शामिल नहीं है, तो ऐसी स्थिति में कलेक्टर द्वारा दखलरहित भूमि को आबादी घोषित की जाने की कार्यवाही की जा सकेगी।
सर्वे का कार्य तीन चरण में:-
योजनान्तर्गत आबादी भूमि के सर्वे का कार्य तीन चरणों में किया जायेगा। प्रथम चरण में जागरूकता अभियान और ग्राम सभाओं का आयोजन, द्वितीय चरण में सर्वे की कार्यवाही में ड्रोन के माध्यम से सर्वे का प्रारूप अभिलेख का निर्माण एवं घर-घर जाकर सत्यापन का कार्य होगा। तृतीय चरण में सर्वे पश्चात की कार्यवाही जैसे दावा-आपत्ति दर्ज एवं उनका निराकरण, सम्पत्ति धारकों को सम्पत्ति कार्ड एवं अन्य अधिकार अभिलेख का वितरण किया जाएगा।
हितधारकों को होने वाले लाभ:-
ग्रामीण आबादी सर्वेक्षण योजना में ग्रामीण सम्पत्तियों का अधिकार अभिलेख होगा, प्रत्येक सम्पत्ति धारक को उसकी सम्पत्ति का स्वामित्व प्रमाण-पत्र दिया जाएगा। सम्पत्तियों पर बैंक से ऋण लेना आसान होगा। सम्पत्तियों के पारिवारिक विभाजन, सम्पत्ति हस्तांतरण की प्रक्रिया सुगम होगी और पारिवारिक सम्पत्ति के विवाद कम होंगे।
ग्राम पंचायतों को होने वाले लाभ:-
योजनान्तर्गत सम्पन्न हुई कार्यवाही से ग्राम पंचायत को स्थानीय आय के साधन प्राप्त होंगे। पंचायत स्तर पर ग्राम विकास की योजना बनाने में सुविधा होगी। शासकीय एवं सार्वजनिक सम्पत्ति की सुरक्षा एवं रख-रखाव आसान होगा। सम्पत्ति संबंधी विवादों में कमी आने के साथ सम्पत्ति के नामांतरण और बटवारे में सहूलियत होगी।

----------------------/3/----------------------
सेना भर्ती में मेडिकल फिट उम्मीदवारों को 17 जून तक दिए जाएगें प्रवेश पत्र
शिवपुरी। जिले में इसी वर्ष जनवरी माह में सेना भर्ती का आयोजन किया गया था। इस भर्ती में भाग लेने वाले उम्मीदवार जिन्हें शिवपुरी में प्रवेश पत्र नहीं मिला था और जो मिलिट्री अस्पताल ग्वालियर से मेडिकल फिट हुए हैं। ऐसे उम्मीदवारों को लिखित परीक्षा के लिए 17 जून को प्रवेश पत्र जारी किए जाएंगे। लिखित परीक्षा 28 जून 2020 को आयोजित की जाएगी।
जिला रोजगार अधिकारी स्वप्निल श्रीवास्तव ने बताया कि चयनित उम्मीदवारों के लिए प्रवेश पत्र 11 मई को दिए जाने थे, लेकिन अब लाॅकडाउन की वजह से 17 जून को दिए जाएगें तथा लिखित परीक्षा भी 31 मई की जगह 28 जून 2020 को होगी। यदि लाॅकडाउन और आगे तक जारी रहता है तो प्रवेश पत्र और लिखित परीक्षा की नई तारीख की जानकारी दूरभाष क्रमांक 0751-2466414 पर प्राप्त कर सकते हैं।

----------------------/4/----------------------
दिनारा पुलिस की कार्यवाही: 6 वर्ष से फरार स्थाई वारंटी गिरफ्तार
दिनारा, शिवपुरी। पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल द्वारा चलाए जा रहे स्थाई वारंटी की गिरफ्तारी हेतु अभियान के अंतर्गत जी डी शर्मा  एसडीओपी  करैरा के निर्देशन में  अभियान के तहत  प्रकरण क्रमांक 1574/14 के स्थाई वारंटी प्रमोद यादव पुत्र राम रतन यादव उम्र 28 साल निवासी काली पहाड़ी थाना करैरा जिला शिवपुरी को थाना प्रभारी दिनारा रिपुदमन सिंह राजावत के नेतृत्व में पुलिस ने गिरफ्तार किया गया। आरोपी को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी रिपुदमन सिंह राजावत, चौकी प्रभारी थनरा विनोद गौतम आरक्षक अंकित सिंह, राम अवतार सिंह, बलवीर सिंह, सोनू साहू, मृत्युंजय सिंह, मनीष गोस्वामी, सैनिक सतीश शर्मा की सराहनीय भूमिका रही है।

----------------------/5/----------------------
आर्मी का जवान घर में फांसी पर झूलता मिला, मोबाइल फोन टंकी में मिला
पिछोर। खबर जिले के पिछोर थाना क्षेत्र के नगरिया कॉलोनी से आ रही है। जहां आज एक आर्मी के जवान की लाश अपने ही घर के कमरे में फांसी के फंदे पर लटकती मिली। उक्त युवक लॉकडाउन से पहले अपने घर छुट्टी पर आया था। परंतु लॉकडाउन के बाद वह यहां फंस गया। उसके बाद आज जवान की लाश अपने कमरे में लटकती मिली।
जानकारी के अनुुसार अनिल पुत्र महेश गुप्ता उम्र 32 साल निवासी बडेहरा के पिता ने नगरिया कॉलोनी में मकान बनाया था। महेश आर्मी में जवान है और वह अभी अजमेर में पॉस्टेड था। उसके बाद यह 25 मार्च को छुट्टी पर अपने घर आया हुआ था। उसके बाद लॉकडाउन के चलते वह यहां अपने गांव में फस गया।
परिजनों ने बताया है कि उसके बाद यह ग्वालियर आर्मी के कार्यालय गया। जहां उसे पत्र प्राप्त हुआ कि उसका ट्रांसफर रूडकी कर दिया है। उसके बाद युवक ने 3 जून को रूडकी जाने के लिए रिजर्वेशन कराया था। परंतु आज अज्ञात कारणों के चलते युवक की लाश अपने कमरे में लटकती मिली। युवक का मोबाईल भी पानी की टंकी में मिला है। इस मामले की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई है। 

----------------------/6/----------------------
तेंदुआ पुलिस ने 51 किसानों की शिकायत पर व्यापारी नीलम जैन के खिलाफ किया मामला दर्ज
कोलारस। मालवा स्कूल के सामने चंद दिनों पूर्व अपना मकान बेचकर तथा खरई क्षेत्र के करीब आधा दर्जन गांवो के 51 से भी अधिक किसानों की फसल खरीद कर सोमवार से अपने पुत्र के साथ गायव नीलम पत्नि अनिल उर्फ बल्लू जैन उम्र करीब 45 वर्ष हाल निवासी ग्राम खरई एवं उसके पुत्र विपुल जैन के खिलाफ तेंदुआ पुलिस थाने में किसानों की फसल उनके गांव जाकर खरीदने तथा फसल का भुगतान लेने के लिये दुकान पर आने पर फोन एवं दुकान बंद मिलने पर खरई क्षेत्र के कई गांवो के करीब 51 किसानों ने एक करोड़ से अधिक का भुगतान लेकर फरार महिला एवं उसके पुत्र के खिलाफ धारा 420, 406 का मामला 51 शिकायती आवेदनों के आधार पर अतरसिंह रावत पुत्र जगदीश रावत को तेंदुआ पुलिस द्वारा फरियादी बनाकर गुरूवार को संयुक्त रूप से मामला दर्ज कर तेंदुआ पुलिस ने आरोपी नीलम जैन एवं उसके पुत्र विपुल जैन की खोजबीन प्रारम्भ कर दी है। उक्त महिला द्वारा किसानों की फसल अधिक दाम में खरीद  कर सोमवार की सुबह कोलारस के मकान की राशि तथा खरई के मकान एवं दुकान का सामान समेट कर भागने वाली महिला की खवर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित कर किसानों की आबाज को पुलिस अधिकारियों तक पहुंचाया जिसके बाद गुरूवार को तेंदुआ पुलिस द्वारा मामला दर्ज कर आरोपी महिला की खोजबीन प्रारम्भ कर दी है। किसानों को उनका भुगतान में कितना समय लगेगा यह तो अभी तय नही है। किन्तु तेंदुआ पुलिस थाने में मामला दर्ज हो जाने के बाद किसानों को महिला के लोटने तथा न्यायलीन कार्यवाही के बाद भुगतान मिलने की एक उम्मीद अवश्य पुलिस कार्यवाही के बाद जाग गई है।