शिवपुरी जिलेभर की आज की विशेष खबरें जो आपके लिये है खास दिनांक 11-मई-2020 - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Monday, May 11, 2020

शिवपुरी जिलेभर की आज की विशेष खबरें जो आपके लिये है खास दिनांक 11-मई-2020

----------------------/1/----------------------
पंचायत सचिव और सहायक ने 15 लाख निकाल लिए, सरपंच की शिकायत पर सुनवाई नहीं
पिछोर, शिवपुरी। खबर जिले के जनपद पंचायत पिछोर के ग्राम आसपुर से आ रही है। जहां पंचायत के सरपंच ने अपने ही पंचायत के सेकेट्री और सहायक सेकेट्री पर भ्रस्टाचार के आरोप लगाते फर्जी आहरण का आरोप लगाया है। इस मामले की शिकायत सीईओ जनपद पंचायत पिछोर सहित सीएम हेल्पलाईन पर भी की जा चुकी हैै। परंतु उसके बाबजूद भी आज दिनांक तक कार्यवाही नहीं हुई है।
शिकायत करते हुए सरपंच गुड्डी बाई आदिवासी जो कि ग्राम पंचायत आसपुर की सरपंच है ने बताया है के अरविंद सिंह चौहान पूर्व प्रभारी सचिव द्धारा उसके हस्ताक्ष डभ्वाईज से बिना उसकी सहमति के लगभग 15 हजार रूपए की राशि बिना कोई निर्माण कार्य कराए निकाल ली। जब भी यह राशि के काम कराने की वह कहती है तो उसे धमकी दी जाती है और कहा जाता है कि उसने अधिकारीयों से बात कली है है और उसे काम कराने की कोई जरूरत नहीं है।
सरपंच ने बताया है कि सीसी रोड प्रधानमंत्री सडक से बानसिंह यादव के मकान तक बननी है। इसके साथ ही सीसी रोड निर्माण त्रिलोक सिंह यादव के मकान से पचबेडियन की और सडक का निर्माण होना है। चबूतरा निर्माण आदिवासी बस्ती कसापुरा सहित अन्य स्थानों पर निर्माण कार्य के पैसे आहरित कर लिए। इसका स्टीमेट बन गया है। परंतु सचिव काम नहीं करा रहा है। इस मामले की शिकायत के बाबजूद भी आज दिनांक तक कार्यवाही नहीं हो पा रही है। 

----------------------/2/----------------------
शिवपुरी में पंचायत सचिव ने भ्रष्टाचार की बैलेंस शीट व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर कर दी
शिवपुरी। मैदानी स्तर पर काम करने वाले कर्मचारियों को दो तरह के किताब किताब रखने पड़ते हैं। पहला वह जिसे शासकीय स्तर पर जमा कराना है। जो आरटीआई के तहत किसी को भी दिया जा सकता है और दूसरा भ्रष्टाचार की बैलेंस शीट। मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में ग्राम पंचायत के सचिव ने व्हाट्सएप ग्रुप में भ्रष्टाचार की बैलेंस शीट शेयर कर दी। 
भ्रष्टाचार में किसका कितना हिस्सा सब लिखा है:-
जनपद पंचायत शिवपुरी के ऑफिशियल व्हाट्सएप ग्रुप में ग्राम पंचायत बारा के सचिव के मोबाइल नंबर से भ्रष्टाचार की बैलेंस शीट शेयर हुई। इसमें जिस हिसाब का लेखा-जोखा बताया गया है वह सरकारी फाइलों में भी दर्ज है। इसके अलावा पंचायत सचिव ने यह भी बताया है कि 8 लाख रुपए से ज्यादा के खर्चे में किसको कितना कमीशन दिया गया। 
इस हिसाब किताब में जनपद पंचायत शिवपुरी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गगन वाजपेई को 5%, पंचायत समन्वय अधिकारी श्री रामकृष्ण चौधरी को ₹50000 दिए जाने का उल्लेख किया गया है। भ्रष्टाचार का हिसाब किताब शेयर करने वाले पंचायत सचिव का नाम श्री भारत सुमन बताया गया है।

----------------------/3/----------------------
झांसी बॉर्डर पर मजदूरों से भरे वाहनों को रोकने से पड़ोरा चौराहे पर लगा वाहनों का रेला
कोलारस-झांसी उत्तर प्रदेश प्रशासन द्वारा हाईवे से होकर झांसी की सीमा में प्रवेश करने वाले मजदूरों से भरे वाहनों का प्रवेश रोकने के कारण उत्तर प्रदेश में झांसी की सीमा से लेकर दिनारा तक मजदूरों से भरे ट्रकों से लेकर लॉडिंग वाहनों की लम्बी लाईन लग गई। जिसके बाद शिवपुरी प्रशासन द्वारा कोरोना संकट से जूझ रहे पुलिस कर्मियों को पड़ोरा चौराहे पर पहुंच कर मजदूरों से भरे वाहनों को रोककर मजदूरों के लिये मदद करने के आदेश के बाद पुलिस के जवान काफी समय तक संघर्ष करते रहे एक तरफ शासन कोरोना वायरस की चैन को तोडऩे का प्रयास कर रही है। दूसरी तरफ मजदूरों को अपने घरों तक पहुंचने के लिये ई-पास जारी कर रही है। फिर भला कोरोना काल में मजदूरों से भरे ट्रको एवं लॉडिंग वाहनों को झांसी के वॉर्डर पर रोककर झांसी कलेक्टर क्या शिवपुरी जिले के दिनारा एवं कोलारस की पुलिस को मजदूरों की व्यवस्था में लगाकर क्या मजदूरों के साथ शिवपुरी जिले की पुलिस को भी कोरोना वायरस के संकट में डालना चाहते है। मध्यप्रदेश में दिनारा से लेकर पड़ोरा चौराहे पर लगे मजदूरों से भरे ट्रकों के जाम के बाद झांसी कलेक्टर द्वारा ऊपर से आये दवाब के बाद झांसी की सीमा में बाहनों को प्रवेश की अनुमति दी तब जाकर शिवपुरी जिले की पुलिस को कोरोना वायरस के संकट से राहत कुछ समय के लिये मिली।

----------------------/4/----------------------
बिजरौनी समिति प्रबंधक व सर्वेयर सहित तीन पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज
शिवपुरी। कोलारस विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी द्वारा शुरूआत से कह दिया गया था कि किसी भी रूप में सोसायटीयों पर धांधाली और गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी बाबजूद इसके बिजरौनी और बूढ़ाडोगर में सेासायटीयों द्वारा किसानों को परेशान और उनकी उपज की अधिक तौल कर किसानों का शोषण किया जाने लगा जब यह मामला विधायक श्री रघुवंशी के संज्ञा में आया तो उन्होंने तुरंत मामले में की शिकायत विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों से की जिसका परिणाम यह हुआ कि बिजरौनी सोसायटी के समिति प्रबंधक, सर्वेयर सहित तीन के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया तो वहीं बूड़ाडोंगर में इस तरह की कोई कार्यवाही ना होने से विधायक रघुवंशी ने यहां भी जांच की मांग कर संबंधितों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। जानकारी के अनुसार जिले के बदरवास थाना क्षेत्र के विजरौनी सोसाईटी पर गेंहू खरीदी के दौरान किसानों को प्रताणित करने, पैसे बसूलने की शिकायतों में जांच के बाद आज पुलिस ने समिति प्रबंधक सर्वेयर सहित तीन लोगों पर धोखाधडी की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले में कोलारस विधायक इस खरीदी केन्द्र पर पहुंचे थे। जहां उन्हें अनियमितताएं मिली थी। उसके बाद यह कार्यवाही की गई है। इसी दिन विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी ने एक और खरीदी केन्द्र का निरीक्षण किया था। वहां भी उन्हें इसी तरह की अनियमितताएं मिली थी। परंतु वहां मामला दर्ज नहीं हो सका।
फसल की ज्यादा हो रही थी तौल, मिली शिकायत तो हुई कार्यवाही:-
जानकारी के अनुसार कोलारस विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी को शिकायत मिली कि उपार्जन केन्द्र पीएच बेयर हाउस विजरौनी सोसाईटी पर किसानों की फ सल को ज्यादा तौला जा रहा है। प्रत्येक किसान से सैम्पल के नाम पर गेंहू रखे जा रहे है। इसके साथ ही फसल को पास कराने के एवज मे किसानों से पैसे लिए जा रहे है। इस मामले की सूचना पर विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी मौके पर पहुंचे और जाकर देखा तो वहां जरूरत से ज्यादा अनियमितताए मिली। तत्काल इस मामले की सूचना उन्होंने वरिष्ठ अधिकारीयों को दी। जिसपर तहसीलदार सहित नान के अधिकारी मौके पर पहुंचे। जहां पहुंचकर मामले की जांच की तो उसमें रूपए मांगने सहित अधिक तौल की शिकायत सही पाई गई। जिसे लेकर प्रशासक एवं सहकारिता विस्तार अधिकारी चमन सिंह ने इस मामले की लिखित शिकायत बदरवास थाने में की। जहां पुलिस ने चमन सिंह की शिकायत पर आरोपी ओमप्रकाश ओझा, सर्वेयर मोहन विहारी और हरिओम ग्वाल के खिलाफ धोखाधडी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
इनका कहना है:-
जिस दिन यह कार्यवाही हुई उसी दिन बूढा डोंगर सोसाईटी पर भी यही अनियमिताएं मिली थी। उसके बाबजूद एक सोसाईटी पर एफआईआर हो गई जबकि दूसरी पर प्रशासन ने एफआईआर नहीं की, प्रशासन का यह दोहरा चरित्र समझ से परे है।  
-वीरेन्द्र रघुवंशी, विधायक कोलारस-

----------------------/5/----------------------
नरवर पुलिस द्वारा अवैध गांजे के साथ 1 आरोपी को किया गिरफ्तार
नरवर, शिवपुरी। पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री राजेश सिंह चंदेल ने समस्त थाना प्रभारियो को नशीले मादक पदार्थ रखने वाले एवं उसका परिवहन करने वाले लोगों के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही करने के निर्देश दिये है जिसके परिणामस्वरूप थाना नरवर की चौकी मगरौनी द्वारा कार्यवाही करते हुए एक आरोपी को दबोचकर 15000 रु. का गांजा जप्त कर एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही की गई।
थाना प्रभारी नरवर डीएसपी (परि.) प्रियंका पांडे को ग्राम मगरोनी में अवैध मादक पदार्थ की खेती करने के संबंध में सूचना प्राप्त हुई, सूचना पर थाना प्रभारी नरवर द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में चौकी प्रभारी मंगरौनी उनि पुनीत वाजपेई के नेतृत्व में पुलिस टीम को मुखबिर के बताए स्थान पर दबिश हेतु रवाना किया, जिस पर से पुलिस टीम द्वारा ठाकुर बाबा ताल के पास आरोपी हरिसिंह पुत्र पजन सिंह कुशवाह उम्र 56 साल निवासी ठाकुर बाबा ताल के पास ग्राम मगरोनी के खेत से अवैध गांजे के 20 पौधे, 3 किलो 840 ग्राम बजनी कीमत 15000 रुपए का विधिवत जप्त कर आरोपी के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही की गई।

----------------------/6/----------------------
शिवपुरी पुलिस द्वारा लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करते हुए एक किराना दुकान संचालक पर की गई कार्यवाही

शिवपुरी। थाना प्रभारी फिजिकल निरी. सुनील खेमरिया को सूचना मिली कि, आज शहर में पूर्ण लोकडाउन होने के बावजूद भी अशोक विहार कॉलोनी में भगवत शरण गुप्ता अपनी किराने की दुकान खोल कर किराना सामान बिक्री कर रहे हैं, थाना प्रभारी फिजिकल द्वारा मुखबिर के बताए स्थान पर पहुंच कर देखा तो उक्त किराने की दुकान खुली मिली, किराना संचालक से लोकडाउन के दौरान दुकान खोलने के संबंध में अनुमति चाही गई तो ना होना बताया, जो लोकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने की परिधि में आता है, जिला दंडाधिकारी शिवपुरी द्वारा प्रख्यापित किसी नियम को जानते हुए भी उसका उल्लंघन करते हुए उक्त आरोपी भगवतशरण पुत्र स्व. बद्री प्रसाद गुप्ता उम्र 62 साल निवासी अशोक विहार कॉलोनी शिवपुरी को समक्ष पंचांन गिरफ्तार कर धारा 188 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया।

----------------------/7/----------------------
लघु एवं कुटीर उद्योगों के माध्यम से प्रदेश में रोजगार के बड़े अवसर सृजित करें
शिवपुरी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि लघु एवं कुटीर उद्योगों के माध्यम से प्रदेश में स्वरोजगार के बड़े अवसर सृजित किए जाएं। इसके लिए भारत सरकार तथा मध्यप्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं का ठोस क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए। कार्य के सकारात्मक परिणाम सामने आने चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में हाथकरद्या, खादी तथा ग्रामोद्योग, मध्यप्रदेश माटी कला बोर्ड तथा कौशल विकास विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव कौशल विकास श्रीमती दीपाली रस्तोगी, प्रमुख सचिव एम.एस.एम.ई श्री मनु श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।
टीम बनाएं तथा गहन विचार मंथन करें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें प्रदेश में रोजगार के अधिक से अधिक अवसर सृजित करने हैं। इसके लिए प्रदेश में लघु एवं कुटीर उद्योगों का जाल बिछाना होगा। अधिकारी टीम बनाएं और गहन विचार मंथन करें, कि किस प्रकार से यह कार्य संभव हो। हमें मध्यप्रदेश को इस क्षेत्र में अग्रणी राज्य बनाना है।
केवल प्रशिक्षण देना ही पर्याप्त नहीं:-
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि विभिन्न उद्यमों की स्थापना के संबंध में केवल प्रशिक्षण दिया जाना पर्याप्त नहीं है। इसके साथ ही यह भी आवश्यक है कि प्रशिक्षणानुसार उद्योग स्थापना में हितग्राही की पूरी मदद की जाए। साथ ही उसे बाजार उपलब्ध कराने में भी सहायता दी जाए। प्रदेश में छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश की परिस्थितियों एवं यहाँ के लोगों की जरूरतों के हिसाब से योजनाएं बनायी जाएं। 
परम्परागत कार्यों को बढ़ावा दें:-
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश की आवश्यकता के अनुरूप लोहार, बढ़ाई, कारीगर, सुनार, कुम्हार आदि परम्परागत कार्यों को बढ़ावा दिया जाए। इसके लिए संबंधितों को प्रशिक्षण देकर व्यवसाय स्थापना में उनका पूरा सहयोग किया जाए। उन्हें बाजार भी उपलब्ध कराया जाए। 
क्लस्टर विकास कार्यक्रम का क्रियान्वयन करें:-
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सूक्ष्म एवं लघु उद्यम की समीक्षा के दौरान क्लस्टर विकास कार्यक्रम के प्रदेश में समुचित क्रियान्वयन किए जाने के निर्देश दिए। अभी इस क्षेत्र में वांछित कार्य नहीं हुआ है। इसके अंतर्गत क्लस्टर में कार्यरत इकाईयों के लिए सामान्य सुविधा केन्द्रों की स्थापना की जाए, अधोसंरचना का निर्माण एवं सुदृढ़ीकरण किया जाए और जिलों में मार्केटिंग हब एवं प्रदर्शनी केन्द्रों की स्थापना की जाए। 
महिला स्व-सहायता समूहों को मार्केटिंग सुविधा:-
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में महिला स्व-सहायता समूह विभिन्न आर्थिक गतिविधियों के अंतर्गत उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं। जिलों में मार्केटिंग हब एवं प्रदर्शनी केन्द्रों की स्थापना के माध्यम से उनके उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराया जाए। बताया गया कि इसके अंतर्गत परियोजना लागत का 60 प्रतिशत (अधिकतम 6 करोड़ रूपये) वित्तीय सहयोग भारत सरकार से प्राप्त हो सकता है।
स्वरोजगार योजनाओं का समुचित क्रियान्वयन हो:-
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि प्रदेश में संचालित की जा रही विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम आदि का समुचित क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए। इन योजनाओं के माध्यम से अधिक से अधिक व्यक्तियों को स्वरोजगार दिलवाया जाए। साथ ही प्रदेश के हाथकरघा बुनकरों एवं शिल्पियों को शासन की योजनांतर्गत सहायता दी जाए। प्रदेश के प्रमुख हाथकरघा क्लस्टर्स में चंदेरी, महेश्वर, सारंगपुर, वारासिवनी, सौंसर तथा मंदसौर शामिल हैं। 
हाथकरघा एवं हस्तशिल्प को बढ़ावा:-
बताया गया कि प्रदेश में हाथकरघा एवं हस्तशिल्प को बढ़ावा देने के लिए भारत शासन की स्फूर्ति योजनांतर्गत मुरैना जिले के बामोरा में चर्मशिल्प, जबलपुर जिले के भेड़ाघाट में पत्थर शिल्प, सीहोर जिले के बुधनी में काष्ठशिल्प, डिण्डौरी जिले में लौहशिल्प का और मंदसौर में हाथकरघा बुनकरों के लिए विशेष प्रोजेक्ट बनाया गया है। इसी प्रकार इमारती लकड़ी फर्नीचर निर्माण के लिए मण्डला तथा बैतूल जिलों में स्पेशल प्रोजेक्टर तैयार किए गए हैं। 

----------------------/8/----------------------
कॉमन सर्विस सेंटर एवं एमपी ऑनलाइन के कियोस्क से भी जमा कर सकते हैं बिजली बिल
शिवपुरी। वैश्विक महामारी कोविड-19 के परिप्रेक्ष्य में लॉक डाउन प्रभावी होने के कारण एमपी ऑनलाइन के कियोस्क एवं कॉमन सर्विस सेंटर से बिजली बिल जमा करने का कार्य बंद था। राज्य शासन के निर्देशानुसार अब सभी कियोस्क पर उपभोक्ता बिल जमा कर सकते हैं। 
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बताया है कि लॉक डाउन-3 लागू होने के बाद रेड, आरेंज एवं ग्रीन जोन के सभी स्थानों पर बिजली बिल भुगतान के लिए एमपी ऑनलाइन के कियोस्क एवं कॉमन सर्विस सेंटर ने काम करना शुरू कर दिया है। इसके अलावा कंपनी कार्यक्षेत्र में सभी ए.टी.पी. मशीन एवं सभी बिजली बिल भुगतान केंद्रों का संचालन भी प्रारंभ कर दिया गया है। बिजली उपभोक्ताओं से अपील है कि निर्धारित सुरक्षा मानदंडो का उपयोग (जैस-दूरी बनाए रखना, मास्क का उपयोग आदि) करते हुये बिल जमा करने की व्यवस्था का लाभ लें। राजस्व संग्रहण के लिए ऑनलाइन व्यवस्था जैसे portal.mpcz.in] UPAY एप, नेट-बैकिंग, फोन-पे, अमेजन-पे, पेटीएम, एच.डी.एफ.सी.-पे एवं अन्य भुगतान विकल्प से भी बिल भुगतान की सुविधा उपलब्ध है।

----------------------/9/----------------------
इन क्षेत्रों में आज बंद रहेगा विद्युत प्रवाह
शिवपुरी। 11 के.व्ही. फतेहपुर एवं आर.के.पुरम फीडर पर 11 मई को मानसून पूर्व आवश्यक रखरखाव कार्य कराये जाने के कारण विद्युत प्रवाह बंद रहेगा।
आज 11 के.व्ही. फतेहपुर फीडर के बंद रहने से प्रातः 8 बजे से शाम 4 बजे तक श्रीराम कालोनी, रघुवंशी कोठी, पोहरी चौराहा, हनुमान कालोनी, अमृत विहार कालोनी, बस स्टेण्ड, मनियर बीज गोदाम, दुबे नर्सरी, लालमाटी, मुदगल कालोनी, फतेहपुर से संबंधित क्षेत्र में विद्युत प्रवाह बंद रहेगा। इसी प्रकार प्रातः 8 बजे दोपहर 1 बजे तक मोहनी सागर, झाींगुरा, नूरानी मस्जिद, शांति नगर क्षेत्र प्रभावित रहेंगे।

----------------------/10/--------------------
आंगनबाडी कार्यकर्ता की ग्वालियर में मौत, शिवपुरी में हडकंप, कोरोना जांच की मांग
शिवपुरी। खबर शहर के फिजीकल थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां वार्ड 39 के आंगनवाडी केन्द्र पर पदस्थ कार्यकर्ता की मौत के बाद कॉलोनी में हडकंप मच गया है। कॉलोनी के लोग अपने अपने घरों में कैद है। इस मामले की सूचना कॉलोनी के लोगों ने फिजीकल पुलिस सहित स्वास्थ्य विभाग की टीम को दी। परंतु फिजीकल थाने का एक आरक्षक मतिका के घर से दूर बैठा है। जबकि स्वास्थ्य विभाग की टीम वहां नहीं पहुंची है। कॉलोनी के लोग म्रतिका का कोरोना सेम्पल लेने की मांग कर रहे है।
जानकारी के अनुसार आयूषी वर्मा उम्र 35 साल निवासी वनविहार कॉलोनी करौदीं की बीते 4 से 5 दिन से तबियत खराब चल रही है। जिसपर से वह लगातार शहर के झोलाछापोंं को दिखाती रही। परंतु महिला को कोई आराम नहीं मिला। बीती रात्रि कार्यकर्ता की तबियत ज्यादा विगडने लगी। जिसपर से परिजन तत्काल महिला को लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे। जहां महिला की गंभीर हालात को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे ग्वालियर रैफर कर दिया।
बताया गया है कि वहां महिला की उपचार के दौरान मौत हो गई। इस मौत के बाद मोहल्ले में हडकंप की स्थिति निर्मित हो गई। महोल्ले के लोगों ने इस मामले को लेकर स्वास्थ्य विभाग सहित पुलिस को सूचित किया। पंरतु हमेशा की तरह पुलिस तो पहुंच गई स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इस मामले में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। मोहल्ले के लोग अपने अपने घरों में कैद है। उन्होंने प्रशासन से महिला के कोरोना का सेम्पल लेने की गुहार लगाई है। इस मामले में परिजनों का कहना है म्रतिका की यूरिन रूक गई थी। जिसके चलते उसकी किडनी फैल हो गई। और उसकी मौत हो गई है।