शिवपुरी जिलेभर की आज की विशेष खबरें जो आपके लिये है खास दिनांक 13-मई-2020 - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Wednesday, May 13, 2020

शिवपुरी जिलेभर की आज की विशेष खबरें जो आपके लिये है खास दिनांक 13-मई-2020

पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री राजेश सिंह चंदेल द्वारा बदरवास वायपास शिवपुरी पर आज प्रवासी मजदूरों को भोजन के पैकेट वितरित किये गये। कस्बा बदरवास के श्री रमेश अग्रवाल एवं वीरा सेठ के नेतृत्व में बदरवास कस्बे के समस्त व्यापारियों के सौजन्य से बाहर से आने वाले मजदूरों के लिए भोजन के 5000 पैकेट प्रतिदिन वितरित करने की व्यवस्था की गई है। इन पैकेटों को बदवास वायपास पर प्रतिदिन प्रवासी मजदूरों को वितरित किया जावेगा।

----------------------/2/----------------------
बलवीर यादव, उनकी पत्नी और बेटा शिवकुमार के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज
पिछोर, शिवपुरी। जिले के बामौरकलां के ग्राम सेकरा मेें डेढ़ माह पूर्व एक नवविवाहिता राजनीता यादव की जलकर हुई मौत के मामले में पुलिस ने जांच के बाद मृतिका के पति शिवकुमार यादव, ससुर बलवीर यादव और सास शकुंतला यादव के खिलाफ दहेज हत्या और साक्ष्य छुपाने सहित दहेज प्रताडऩा का मामला दर्ज किया है। जांच में स्पष्ट हुआ है कि आरोपीगणों ने राजनीता की पहले मारपीट की फिर उसे आग से जला दिया। बाद में जब उसकी मृत्यु हो गई तो मृतिका के माता-पिता को मृत्यु की सूचना दिए बिना ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया।
विदित हो कि बीते 3 अप्रेल की रात्रि राजनीता पत्नी शिवकुमार यादव की आग से जलने के कारण मौत हो गई थी। जिसका आरोपी शिवकुमार यादव, बलवीर यादव और शकुंतला यादव ने चोरी छिपे अंतिम संस्कार कर दिया था और पुलिस सहित मृतिका के मायके पक्ष के लोगों को भी इसकी जानकारी नहीं दी थी।
जब मृतिका के माता-पिता को राजनीता की मौत की जानकारी लगी तो वह दिदावली गांव से सेकरा पहुंचे और उन्होंने बामौरकलां पुलिस को आवेदन देकर शिकायत की। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम किया और पिछोर एसडीओपी देवेंद्र सिंह कुशवाह ने मामले की जांच शुरू की। जिन्होंने जांच में पाया कि आरोपीगणों ने दहेज के लिए राजनीता की घटना वाले दिन मारपीट की थी और रात्रि में उसके शरीर पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। जिससे उसकी मौत हो गई और आरोपियों ने चोरी छिपे उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया।

----------------------/3/----------------------
मुंबई से पलायन कर उत्तरप्रदेश जा रहा था मजदूर, शिवपुरी में बिगड़ी हालत, निकला कोरोना पॉजिटिव
-मजदूर के दो अन्य साथियों की रिपोर्ट आई निगेटिव,जिस ट्रक से जा रहा था उसमें सवार थे लगभग 40 मजदूर-
शिवपुरी में कल हेल्थ बुलेटिन जारी होने के बाद एक बार फिर से हड़कंपपूर्ण स्थिति देखी गई। जारी हुए बुलेटिन में एक 21 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव निकला है। जो युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है वह मुंबई की एक गारमेंटस फैक्ट्री में काम करता था,फैक्ट्री बंद होने के बाद वह अपने साथियों के साथ पलायन कर उत्तर प्रदेश स्थित गृह निवास जा रहा था। जिसकी शिवपुरी जिले के भीतर सुरवाया के समीप हालत बिगड़ने पर उसे उपचार हेतु जिला अस्पताल लाया गया था। अस्पताल पहुंचने पर दीपक कुमार और उसके दो अन्य साथियों का कोरोना टेस्ट कराया गया। आज आई रिपोर्ट में दीपक कुमार जहां कोरोना पॉजिटिव निकला है वहीं उसके दोनों अन्य साथियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज के हेल्थ बुलेटिन में कोरोना पॉजिटिव निकलने से जहां हड़कम्प मचा हुआ है वहीं दूसरी ओर राहत भरी खबर यह सामने आई है कि पिछले दिनों संक्रमित पाए गए सोहेब खांन के संपर्क में आए लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार दीपक कुमार पुत्र रामप्रसाद उम्र 21 साल निवासी बस्ती उत्तरप्रदेश व उसके मित्र सुरेश पुत्र झिनकान, रामलखन पुत्र राममिल गौतम निवासीगण ग्राम केवाड़ी जिला बस्ती उत्तरप्रदेश। मुंबई में एक गारमेंट्स फैक्ट्री में काम करते थे। लॉकडाउन होने के कारण फैक्ट्री बंद हो गई थी, जिसके चलते यह 9 मई को मुंबई से पलायन कर उक्त तीनों एक ट्रक में सवार होकर उत्तरप्रदेश के लिए निकले थे। इस ट्रक में लगभग 40 मजदूर सवार थे। सोमवार 11 मई को रात्रि लगभग 9 बजे यह ट्रक सुरवाया स्थित न्यू खालसा ढ़ाबे पर रूका था, इसी दौरान दीपक कुमार की तबीयत खराब हो गई। बताया जाता है कि दीपक कुमार बेहोश हो गया था। दीपक की बिगड़ी हालत को देख ट्रक स्टॉफ व अन्य मजदूर घबरा गए और वह दीपक और उसके दोनों मित्र सुरेश व रामलखन को ट्रक से नीचे उतारकर यूपी के लिए रवाना हो गए। ढ़़ाबे पर दीपक की हालत और गंभीर होती जा रही थी। जिसके चलते सुरेश और रामलखन ने मौके पर मौजूद अन्य स्थानीय लोगों से मदद मांगी। बताया जाता है कि कोरोना के डर के कारण किसी ने भी इनकी मदद नही की, बाद में सुरेश ने 108 एंबुलेंस को फोन किया, सूचना मिलने के बाद 108 एंबुलेंस मौके पर पहुंची और उक्त तीनों को जिला अस्पताल लाया गया।डॉक्टरों ने उक्त तीनों के सैम्पल लेते हुए इनका इलाज शुरू किया।मंगलवार को जब तीनों की जांच रिपोर्ट सामने आई तो सुरेश और रामलखन कोरोना निगेटिव निकले जबकि दीपक कोरोना पॉजिटिव पाया गया। दीपक कुमार को आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उसका उपचार शुरू कर दिया गया है।

----------------------/4/----------------------
सोहेब के सम्पर्क में रहे सभी की रिपोर्ट आई निगेटिव
शिवपुरी। कल जारी हुए हेल्थ बुलेटिन में एक राहत भरी खबर भी सामने आई है। पिछले दिनों यूपी के देवबंद से लौटे कोरोना पॉजिटिव सोहेब के सम्पर्क में रहे सभी लोगों की कोरोना जांच निगेटिव आई हैं। आज 80 जांच रिपोर्टे प्राप्त हुई जिनमें से एक मजदूर दीपक कुमार कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। जबकि 79 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

----------------------/5/----------------------
अन्य राज्यों से पैदल चलकर मध्यप्रदेश की सीमा में आने वाले श्रमिकों को मिलेंगी सभी व्यवस्थाएँ
शिवपुरी। राज्य शासन द्वारा विभिन्न प्रदेशों से पैदल चलकर मध्यप्रदेश के सीमावर्ती जिलों में आ रहे उन सभी श्रमिकों के लिये अस्थाई ठहरने, भोजन, पेयजल, प्राथमिक उपचार एवं दवाओं की व्यवस्था की है। मध्यप्रदेश में ऐसे मजदूरों को बसों के माध्यम से उनके जिलों तक पहुँचाने तथा अन्य राज्यो के मजदूरों को मध्यप्रदेश की सीमा तक छुड़वाने के लिये 375 अतिरिक्त बसो की व्यवस्था की गई है। साथ ही इस प्रभावी कार्य-योजना को अमले में लाने के लिये सीमावर्ती जिलों में ट्रांजिट पाइंट बनाये गये है, जहाँ से स्थानीय प्रशासन के सहयोग से श्रमिकों को सकुशल उनके गृह नगर, ग्राम पहुँचाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने अन्य राज्यों से पैदल चलकर आने वाले श्रमिकों को सभी आवश्यक सुविधाएँ सुनिश्चित करने के निर्देश दिये थे।
प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में आ रहे श्रमिकों की बड़ी संख्या के दृष्टिगत राज्य शासन ने प्रभावी कार्य-योजना तैयार कर जिला कलेक्टर्स को सभी आवश्यक बंदोबस्त करने के निर्देश दिये है। जिलों में अभी तक जो व्यवस्थाएँ की गयी थी। उसके अतिरिक्त आज से नयी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित कर श्रमिकों को सभी सहूलियतें दी जा रही है। कार्य-योजना पर आज 12 मई से संबंधित जिलों में कार्य प्रारंभ हो गया है। कार्य-योजना में रिक्वीजीशन की जाने वाली बसों के लिये 70 प्रतिशत अग्रिम भुगतान की व्यवस्था भी की गई है, जिससे श्रमिकों को परिवहन व्यवस्था उपलब्ध करवाने में कठिनाई का सामना न करना पड़े।
तैयार की गई कार्य-योजना में संबंधित जिला कलेक्टर्स को बताया गया कि मध्यप्रदेश के महाराष्ट्र सीमा पर सेंधवा (बीजासन)-देवास, देवास-गुना, गुना-शिवपुरी होते हुए झांसी उत्तरप्रदेश सीमा तक और गुना-शिवपुरी-ग्वालियर-भिंड होते हुए उत्तरप्रदेश सीमा तक श्रमिकों को छोड़ने के लिये देवास एवं गुना में ट्रांजिट पांइट बनाया जा सकता है। देवास से छतरपुर मार्ग पर दौलतपुर (सीहोर) ट्रांजिट पाइंट बनाया जा सकता है। दौलतपुर (सीहोर) से ही मालथौन एवं दौलतपुर-सागर-छतरपुर होते हुए महोबा-उत्तरप्रदेश सीमा तक श्रमिकों को ले जायें। इन ट्रांजिट पाइंट पर आराम करने के लिये छाया, भोजन, चाय-पानी तथा फस्ट-ऐड एवं आवश्यक दवाईयाँ भी रखी जायें। इन ट्रांजिट पाइंट पर कुछ वाहन भी रखे जायें, जिससे श्रमिकों की अदला-बदली होकर उन्हें आगे प्रदेश की सीमा पर पहुँचाने की व्यवस्था हो सके।
मध्यप्रदेश के ऐसे सीमावर्ती जिलों में बसों की व्यवस्था की गई है। जहाँ बड़ी संख्या में श्रमिक आ रहे हैं। इनमें महाराष्ट्र सीमा सेंधवा-देवास मार्ग के लिये 100 बस, देवास-गुना के लिए 50, देवास-सागर के लिए 40, गुना-भिण्ड (उत्तरप्रदेश सीमा) के लिये 20, गुना-दीनारा (झॉंसी-उत्तरप्रदेश सीमा) के लिये 80 बस, मुरैना-ग्वालियर, दतिया-झाँसी के लिये 25, देवास-दौलतपुर(सीहोर) के लिये 10, दौलतपुर(सीहोर), सागर-मालथौन के लिए 25, दौलतपुर(सीहोर), सागर-छतरपुर (महोबा उत्तरप्रदेश सीमा) के लिये 25 बस की गई हैं।

----------------------/6/----------------------
मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय मॉनिटरिंग समिति का गठन

शिवपुरी। प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान के तहत प्राइम सपोर्ट स्कीम में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय मॉनीटरिंग समिति का गठन किया गया है। राज्य शासन द्वारा आज समिति गठन का आदेश जारी किया गया। राज्य स्तरीय क्रियान्वयन समिति, प्रदेश में योजना के क्रियान्वयन, प्रगति तथा दैनिक क्रियान्वयन में आने वाले गतिरोध की समीक्षा करेगी। समिति योजना के क्रियान्वयन के लिये आवश्यक निर्णय भी लेगी।
समिति में कृषि उत्पादन आयुक्त, प्रमुख सचिव वित्त, प्रमुख सचिव किसान कल्याण तथा कृषि विकास, प्रमुख सचिव खादय् उपभोक्ता संरक्षण एवं नागरिक आपूर्ति, प्रमुख सचिव राजस्व, प्रमुख सचिव सहकारिता, प्रबंध संचालक म.प्र. राज्य कृषि विपणन बोर्ड, प्रबंध संचालक मध्यप्रदेश स्टेट सिविल सप्लाइज कार्पोरेशन लिमिटेड, प्रबंध संचालक मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ भोपाल, प्रबंध संचालक म.प्र. वेयर हाउसिंग एण्ड लॉजिस्टिक कार्पोरेशन भोपाल, प्रबंध संचालक अपेक्स बैंक भोपाल, संचालक खादय उपभोक्ता संरक्षण एवं नागरिक आपूर्ति विभाग, आयुक्तध्सह पंजीयक सहकारी संस्थाएं, मुख्य सूचना अधिकारी एनआईसी भोपाल सदस्य बनाए गए हैं। संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास भोपाल समिति के सदस्य सचिव होंगे।

----------------------/7/----------------------
कक्षा एक से कक्षा आठ तक अध्ययनरत विद्यार्थी होंगे प्रोन्नत
शिवपुरी। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण के बचाव के मद्देनजर कक्षा एक से कक्षा आठ तक के विद्यार्थियों को प्रोन्नत करने के निर्देश जारी किए गए हैं। इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही के निर्देश आयुक्त राज्य शिक्षा केन्द्र लोकेश जाटव ने सभी कलेक्टरों को दिए।
श्री जाटव ने कहा है कि प्रदेश के ऐसे अशासकीय, अनुदान प्राप्त विद्यालय जिनमें कक्षा एक से आठ तक की वार्षिक परीक्षा 19 मार्च 2020 अथवा उससे पूर्व सम्पन्न हो चुकी है, वे अपनी संस्था का वार्षिक परीक्षा परिणाम नियमानुसार घोषित करेंगे, परंतु किसी भी दशा में विद्यार्थियों को उसी कक्षा में रोका नहीं जायेगा। जिन विद्यालयों में वार्षिक परीक्षाएँ नहीं हो सकी हैं, उनमें पढ़ने वाले विद्यार्थियों को शिक्षा का अधिकार अधिनियम के प्रावधान के अनुरूप मासिक अर्द्धवार्षिक एवं आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जाए।
समस्त शासकीय विद्यालयों में अध्ययनरत कक्षा एक से आठ के विद्यार्थियों को शिक्षा का अधिकार अधिनियम के प्रावधान के अनुरूप मासिक अर्द्धवार्षिक एवं आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जाए। कक्षा आठ के विद्यार्थियों को प्रारंभिक शिक्षा पूर्णतरू प्रमाण-पत्र भी जारी किए जाएं। पूरे सत्र के दौरान मासिक, त्रैमासिक (केवल कक्षा 5 और 8) अर्द्धवार्षिक एवं आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर पूर्व में तैयार प्रगति-पत्रक तथा अन्य मूल्यांकन अभिलेखों में वार्षिक के कॉलम में डेश(-) अंकित किया जाए।

----------------------/8/----------------------
श्रम विभाग की 18 सेवाएँ मिलेंगी अब एक दिन में

शिवपुरी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान के निर्देशानुसार उद्योगों को सहूलियत देने के उद्देश्य से मध्यप्रदेश लोक सेवाओं के प्रदान की गारंटी अधिनियम में श्रम विभाग द्वारा दी जाने वाली सेवाओं की अवधि में संशोधन किया गया है। अब श्रम विभाग की 18 सेवाओं को एक दिन में देने का प्रावधान किया गया है। पूर्व में इन सेवाओं को 30 दिन में देने का प्रावधान था। इसकी अधिसूचना जारी की जा चुकी है।
जारी अधिसूचना के अनुसार मध्यप्रदेश दुकान एवं स्थापना अधिनियम-1958 की धारा-1 की उपधारा(4) के अंतर्गत मध्यप्रदेश शासन द्वारा अधिसूचित क्षेत्रों में स्थापित संस्थाओं का पंजीयन समय-सीमा में किया जाना, संविदा श्रम ( वि. एवं स.) अधिनियम 1970 की धारा 12 के अन्तर्गत 20 श्रमिक एवं अधिक ठेका श्रमिक नियोजित करने वाले ठेकेदार को अनुज्ञप्ति का निर्धारित समय-सीमा में प्रदाय किया जाना, संविदा श्रम (विनियमन एवं समापित) अधिनियम 1970 की धारा 12 सहपठित मध्यप्रदेश नियम 1973 के नियम 29 के अंतर्गत 20 श्रमिक एवं अधिक ठेका श्रमिक नियोजित करने वाले प्रत्येक ठेकेदार को जारी अनुज्ञपित की अवधि की समाप्ति पर उसका नवीनीकरण निर्धारित समय-सीमा में प्रदाय किया जाना, संविदा श्रम (विनियम एवं समाप्ति) अधिनियम 1970 की धारा 12 के अंतर्गत 20 श्रमिक एवं अधिक ठेका श्रमिक नियोजित करने वाले प्रत्येक ठेकेदार को जारी अनुज्ञप्ति में मध्यप्रदेश नियम 1973 के नियम 28 में संशोधन चाहे जाने पर निर्धारित समय-सीमा में संशोधन अनुज्ञप्ति प्रदाय किया जाना, कारखाना अधिनियम 1948 के अंतर्गत गैर खतरनाक श्रेणी के कारखानों को नवीन अनुज्ञप्ति का निर्धारित समय-सीमा में प्रदाया किया जाना है, कारखाना अधिनियम 1948 की धारा 6,7 सहपठित नियम 7 के अन्तर्गत कारखानों का अनुज्ञप्ति का नवीनीकरण, संशोधन निर्धारित समय-सीमा में प्रदाय किया जाना है, दुकानों, वाणिज्यिक स्थापनाओं, मोटर परिवहन आदि स्थापनाओं के लिए स्व-प्रमाणिकरण योजना के अंतर्गत प्राप्त होने वाले आवेदनों का निराकरण कर निर्धारित समय-सीमा में स्वीकृति प्रदाय किया जाना, कारखानों में स्व-प्रमाणीकरण योजना के अंतर्गत कारखानों से प्राप्त होने वाले आवेदनों का निराकरण के संबंध में निर्देश, अन्तर्राज्जीय प्रवासी कर्मकार (नियोजन का विनियमन एवं सेवा शर्तें) अधिनियम 1979 के अंतर्गत जारी पंजीयन एवं लायसेंस प्रदाय करने विषयक, मोटर परिवहन कर्मकार अधिनियम 1961 के अंतर्गत पंजीयन एवं लायसेंस का प्रदाय करने विषयक, भवन एवं अन्य सनिर्माण कर्मकार (नियोजन तथा सेवा शर्तों का विनियमन) अधिनियम 1996 के अंतर्गत पंजीयन प्रदाय करने विषयक, मध्यप्रदेश दुकान एवं स्थापना अधिनियम 1958 के अंतगत दुकान एवं वाणिज्यिक स्थापनाएँ जिनके पंजीयन प्रमाण-पत्र में संशोधन होना हो, जैसे कि नियोजित श्रमिकों की संख्या में कोई भी परिवर्तन, मध्यप्रदेश दुकान एवं स्थापना अधिनियम 1958 के अंतर्गत दुकान एवं वाणिज्यिक स्थापनाओं के पंजीयन की वैधता समाप्त होने वाली हो तथा पूर्व में जारी हुआ पंजीयन प्रमाण-पत्र में दर्ज हुई जानकारी में संशोधन भी होना हो ( जैसे कि नियोजित श्रमिकों की संख्या में कोई भी परिवर्तन), कारखाना अधिनियम 1948 की धारा 6,7 सहपठित नियम 3-ए के अंतर्गत कारखानों के साईट प्लान एवं विस्तृत नक्शों की अनुज्ञा जारी किया जाना, कारखाना अधिनियम 1948 की धारा 6,7 सपठित नियम 6 के अंतर्गत गैर खतरनाक श्रेणी के कारखानों की नवीन अनुज्ञप्ति प्रदाय, बीड़ी एवं सिगार कामगार (नियोजन एवं शर्तें अधिनियम) 1966 औद्योगिक परिसर को अनुज्ञप्ति का प्रदाय, बीड़ी एवं सिगार कामगार (नियोजन एवं शर्तें अधिनियम) 1966 औद्योगिक परिसर को अनुज्ञप्ति का नवीनीकरण, संविदा श्रम (विनियम एवं समाप्ति) अधिनियम 1970 के अंतर्गत प्रमुख नियोजक का पंजीयन प्रदाय करने की अवधि एक दिन निर्धारित की गयी है। पंजीयन के लिए आवेदन और आदेश ऑनलाइन होगा।
इन सेवाओं के लिये प्रथम अपीलीय अधिकारी और द्वीतीय अपीलीय अधिकारी का भी पदांकन कर दिया गया है। प्रथम अपील के निराकरण की अवधि 30 कार्य दिवस निर्धारित की गई है।

----------------------/9/----------------------
स्वस्थ्य विभाग के साथ साथ पुलिस प्रशासन को भी PPE किट सहित अन्य आवश्यक सामग्री भी उपलब्ध कराएगा ट्रस्ट: यशोधरा राजे सिंधिया
-जरूरतमंदों के साथ साथ पलायन कर रहे मजदूरों को भी वितरण कराई जाएगी खाद्य सामग्री-
शिवपुरी। आप के सहयोग से कोविड 19 कोरोना वायरस से हमे आगे भी लंबे समय तक, आपको और हमें मिलकर लड़ाई लड़नी है, यह बात आज पूर्व कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कही है। आज अंतरराष्ट्रीय नर्सेज दिवस के अवसर पर जन नायक यशोधरा राजे सिंधिया के निर्देशन में गुणवत्ता की सरकारी मानकों के अनुरूप PPE किट अपने अंचल के कारिगरों को रोजगार देकर राजमाता विजयाराजे सिंधिया ट्रस्ट जिला अस्पताल को भेंट कर रहा है, साथ ही सरकारी मानकों के अनुरूप N95 मास्क,ग्लोबज,फेस मास्क शीट,गॉगल आदि भी इस PPE किट के साथ सम्मलित किये गए है, इतना ही नही यशोधरा राजे सिंधिया ने जानकारी देते हुए बताया कि आगे भी जिला अस्पताल और प्रशासन को जितनी भी PPE किट्स की आवश्यकता होंगी वो सभी भी डॉक्टर्स,नर्सेज,स्वास्थ्य सफाई कर्मियों की सुरक्षा के लिए राजमाता विजयाराजे सिंधिया ट्रस्ट उपलब्ध करवाएगा। अंचल की जनता से सीधा जुड़ाव रखने बाली जननेता, शिवपुरी-गुना,ग्वालियर की सर्वाधिक लोकप्रिय संवेदनशील लीडर,शिवपुरी विधायक एवं ट्रस्ट की अध्यक्ष यशोधरा राजे सिंधिया ने बताया कि, बड़ी संख्या में पलायन करने पर मजबूर मजदूरो को भी शिवपुरी से गुजरने और यहाँ अस्थाई रूप से रुके होने पर मदद ट्रस्ट करना चाहता है। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि जिन जगहों,रास्तों पर जहाँ मदद पहुँचाई जा सकती है वे चिन्हित स्थान बताने में आपका सहयोग आपेक्षित है। गौरतलब है कि पिछले 45 दिनों से ट्रस्ट द्बारा मलीन बस्तियो में राशन पहुँचाए जाने का काम किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर अव ट्रस्ट के द्बारा जरूरतमंदों के साथ साथ पलायन करने बाले मजदूरों को भी ट्रस्ट मदद पहुचाने के लिए तत्पर है। यहां बतादें की हर घर मे चूल्हा जल सके,कोई भी भूखा न सोए,अपने अंचल की जनता से अपनत्व के वशीभूत दिल से उन तक मदद पहुचाने की इच्छा ट्रस्ट की अध्यक्ष यशोधरा राजे सिंधिया की हैं जिसे वह पिछले लंबे समय से करती भी आ रहीं हैं।