तहसीलदार पर FIR की मांग, मानव अधिकार आयोग तक पहुंचा मामला - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

Monday, April 27, 2020

तहसीलदार पर FIR की मांग, मानव अधिकार आयोग तक पहुंचा मामला

श्योपुर-बड़ौदा। गेहूं बेचने गए किसान को तहसीलदार द्वारा डंडे मारने की घटना तूल पकड़ती जा रही है। भाजपा-कांग्रेस के नेताओं ने बड़ौदा तहसीलदार शिवराज मीणा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। घायल किसान को लेकर कुछ नेता पाण्डोला चौकी पहुंचे और तहसीलदार पर एफआईआर की मांग की लेकिन, चौकी पर तहसीलदार के खिलाफ आवेदन तक नहीं लिया गया। इसके बाद भाजपा नेता किसान को लेकर कलेक्टोरेट व एसपी कार्यालय पहुंचे जहां, उन्हें जांच का भरोसा देकर लौटा दिया गया है। तहसीलदार के खिलाफ लोगों का गुस्सा सोशल मीडिया पर हो रही पोस्टों पर दिखा। तहसीलदार के खिलाफ शिकायतें श्योपुर कलेक्टर से लेकर भोपाल और मानव अधिकार आयोग तक पहुंच चुकी हैं।
गौरतलब है कि शनिवार को सलमान्या साइलो सेंटर पर गेहूं बेचने के लिए चार दिन से कतार में लगे पाण्डोला के किसान रमेश पुत्र सीताराम सुमन का नंबर जैसे ही गेहूं तौलने का नंबर आया तो उसका गेहूं सैंपल में फेल कर दिया गया। जब वह इसकी शिकायत तहसीलदार शिवराज मीणा के पास लेकर पहुंचा तो तहसीलदार ने उसके हाथ व पांवों में डंडे मार दिए थे। इस घटना के बाद बड़ौदा तहसीलदार को चौतरफा नाराजगी व आक्रोश का सामना करना पड़ रहा है हालांकि, तहसीलदार इन सभी बातों को नकारकर इन्हें झूंठे आरोप बता रहे हैं। चौकाने वाली बात यह भी है कि, इस हंगामे के बाद किसान रमेश माली के उस गेहूं को साइलो सेंटर ने खरीद भी लिया, जिसे शनिवार को हल्की क्वालिटी का बताकर रिजेक्ट कर दिया था। कांग्रेस के जिला प्रवक्ता सीपी शर्मा ने तहसीलदार के खिलाफ मानव अधिकार आयोग को शिकायत की है। उधर भाजपा नेता रामलखन नापाखेड़ली, महावीर मीणा, जुगनू सिकरवार आदि ने इसकी शिकायत सांसद व केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के अलावा भोपाल तक की है।
तहसीलदार पर एफआईआर की मांग लेकर अड़े भाजपा नेता:-
पूर्व विधायक ब्रजराज सिंह चौहान उक्त किसान को लेकर पांडोला चौकी पहुंचे और तहसीलदार पर मारपीट के मामले में एफआईआर का आवेदन दिया लेकिन, चौकी ने तहसीलदार पर कार्रवाई का साहस नहीं दिखाया। इसके बाद पूर्व विधायक दुर्गालाल विजय, बृजराज सिंह चौहान, भाजपा जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह जाट, पूर्व जिला अध्यक्ष महावीर सिंह सिसोदिया, वरिष्ठ नेता कैलाश नारायण गर्ग, बिहारी सिंह सोलंकी आदि घायल किसान को लेकर कलेक्टोरेट पहुंचे। एडीएम सुनील राज नायर और फिर एडिशनल एसपी पीएल कुर्वे को आवेदन देकर तहसीलदार पर एफआईआर की मांग की। एडिशन एसपी ने किसान के मेडिकल के लिए अस्पताल भेजा है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रंवाई की जाएगी।
हर किसान का खरीदा जाएगा गेहूं:-
भाजपा जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह जाट सलमान्या सेंटर पहुंचे और वहां कतार में लगे किसानों से कहा कि, जिन किसानों को एसएमएस पहुंच रहे हैं वही किसान अपनी फसल लेकर तुलाई सेंटर पर पहुंचे। जिन्हें एसएमएस नहीं पहुंच रहे हैं वह बेवजह सेंटरों पर पहुंचकर खुद की और प्रशासन की परेशानी न बढ़ाएं। किसान विश्वास रखें तक किसान का एक-एक दाना नहीं खरीद लिया जाएगा जब तक खरीद केंद्र बंद नहीं होंगे। पूर्व जिला अध्यक्ष महावीर सिसोदिया को किसानों ने बताया कि, अधिकारी गलत जानकारी देकर साफ फसल को भी कचरा बताकर रिजेक्ट कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, जो फसल रिजेक्ट की जा रही है उसे मौके पर ही साफ कर खरीदा जाएगा। इसके लिए किसानों को दोबारा से लाइन में लगने की जरुरत नही पड़ेगी।