जिले में बोर्ड परीक्षा में नकल को लेकर कलेक्टर सख्त दिए निर्देश, 2 सेंटर बदले, अमोलपठा पर होगी कार्रवाई..? - TIMESNEWS

Breaking

TIMESNEWS

सच्चाई की कलम से

सिंधिया गद्दार मेरे आदर्श अब नही- मानसिंह फौजी

विज्ञापन

loading...

Thursday, February 27, 2020

जिले में बोर्ड परीक्षा में नकल को लेकर कलेक्टर सख्त दिए निर्देश, 2 सेंटर बदले, अमोलपठा पर होगी कार्रवाई..?

शिवपुरी। माध्यमिक शिक्षा मंडल के दिशा-निर्देशों के अनुसार परीक्षा संपन्न कराएं। परीक्षा में किसी भी प्रकार से नकल नहीं होना चाहिए। परीक्षा केंद्र पर अनुचित साधनों के उपयोग पर प्रतिबंध रहेगा। परीक्षा केंद्र में परीक्षार्थियों की चेकिंग कर प्रवेश कराएं। किसी भी विवाद की स्थिति में जिला शिक्षा अधिकारी और जिला पंचायत सीईओ को भी सूचना दे सकते हैं। यह निर्देश कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने सभी केंद्र अध्यक्ष और सहायक केंद्र अध्यक्ष को दिए हैं।आगामी हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी की बोर्ड परीक्षा को लेकर जिले के परीक्षा केंद्रों के केंद्र अध्यक्ष और सहायक केंद्र अध्यक्ष के साथ बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक रखी गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एच.पी.वर्मा, संयुक्त कलेक्टर श्री चैकीकर, जिला शिक्षा अधिकारी अजय कटियार और सहायक संचालक शिक्षा विभाग मौजूद थे।
कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने सभी केंद्राध्यक्षो को निर्देश दिए हैं कि सामग्री वितरण के समय विशेष निगरानी रखी जाए और केंद्र तक सामग्री ले जाने में पूरी सावधानी बरतें। सभी को माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी निर्देश पुस्तिका दी गई है उसे देखें और नियमानुसार परीक्षा संपन्न कराएं। लेकिन यहां एक बड़ा सवाल जस का तस है कि क्या नकल के लिए जिले में ही नही प्रदेश सहित पड़ोसी राज्यों में भी बदनाम अमोलपठा सेंटर पर नकल रुक पाएगी..?
परीक्षा केंद्रों में हो मूलभूत सुविधाएं:-
कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने बैठक में सभी केंद्र अध्यक्ष से कहा है कि अपने-अपने केंद्र जाकर देख ले और प्रधानाध्यापक से संपर्क करें। परीक्षा केंद्र में सभी मूलभूत सुविधाएं होना चाहिए। परीक्षा केंद्र में पेयजल की व्यवस्था रहे और टॉयलेट स्वच्छ होना चाहिए। सभी कक्षों में पर्याप्त लाइट रहे ताकि बच्चों को लिखने में समस्या ना आए।
100 मीटर के दायरे में बाहरी व्यक्ति का प्रवेश प्रतिबंधित:-
बैठक में बताया गया है कि परीक्षा केंद्र के 100 मीटर के दायरे में किसी भी बाहरी व्यक्ति का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने कहा है जिन स्कूलों में बाउंड्री वॉल नही है वहां चूने की लाइन डालें।
केंद्रों के लिए कलेक्टर प्रतिनिधि नियुक्त:-
परीक्षा केंद्रों के लिए कलेक्टर प्रतिनिधि नियुक्त किए गए हैं। बैठक में सभी केंद्र अध्यक्षों को निर्देश दिए गए कि इन प्रतिनिधियों के नाम और मोबाइल नंबर आज ही लेकर जाएं ताकि किसी परिस्थिति में आवश्यक होने पर तुरंत संपर्क किया जा सके।
कुल 68 केंद्रों पर होगी परीक्षा, 2 केंद्रों में परिवर्तन:-
जिले में बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 68 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। जिनमे 2 परीक्षा केंद्र में परिवर्तन भी किया गया है। शासकीय कन्या उमावि मगरोनी के स्थान पर अब शासकीय मॉडल उमावि करेरा को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इसी प्रकार पूर्व निर्धारित परीक्षा केंद्र शासकीय मॉडल उमावि बदरवास को बदलकर शासकीय उमावि दिनारा में अब परीक्षार्थियों की परीक्षा होगी।
अमोलपठा में रुकेगी नकल:-
नकल के लिए बदनाम अमोलपठा सेंटर पर खुलेआम होने वाली नकल पर क्या इसबार लगाम लगेगी ये प्रश्नचिन्ह बनकर प्रशासन पर सवालिया निशान बना हुआ है। क्योंकि पूर्व में भी यहां नकल रोकने के काफी प्रयास किये जाते रहे है लेकिन नकल माफिया की हरियाली के आगे यहां का स्थानीय प्रशासनिक अमला नतमस्तक हो जाता है जिसके चलते नकल माफिया अपनी मनमानी करता है। कलेक्टर महोदय को अपने विश्वसनीय अधिकारियों की तैनाती यहां करनी होगी तभी यहां नकल पर अंकुश लग सकता है।

Add-2

विज्ञापन

loading...